12 अगस्त, 2020|9:06|IST

अगली स्टोरी

मारुति ने 1.35 लाख कारें वापस मंगाई, बलेनो व वैगन-आर के ईंधन पंप में थी बड़ी खराबी

देश की सबसे बड़ी कार विनिर्माता कंपनी मारुति सुजूकी इंडिया (एमएसआई) ने बुधवार को कहा कि खराब ईंधन पंप की जांच और बदलने के लिए उसने 1,34,885 बैगन- आर और बलेनो मॉडल की कारें वापस मंगाई हैं।  एमएसआई ने शेयर बाजारों को भेजी नियामकीय सूचना में कहा है वह स्वैच्छिक तौर पर यह काम कर रही है। उसने 15 नवंबर 2018 से लेकर 15 अक्टूबर 2019 के बीच विनिर्मित वैगन-आर (एक लीटर) और 8 जनवरी 2019 से लेकर 4 नवंबर 2019 के बीच विनिर्मित बलेनो (पेट्रोल) कारों को वापस मंगाया है।

यह भी पढ़ें: यात्री वाहनों की बिक्री में 49.59 फीसद की भारी गिरावट, दोपहिया वाहनों की भी गिरी जून में सेल

उसने कहा है कि इस वापसी में कंपनी के दोनों तरह के 1,34,885 वाहन वापस आ सकते हैं।  वाहन कंपनी ने कहा, ''कंपनी की इस पहल से वैगन-आर की 56,663 इकाइयों और बलेनो की 78,222 इकाइयों में ईंधन पंप खराब होने का मामला हो सकता है। इसमें खराब हिस्से को बिना किसी शुल्क के बदला जायेगा। सूचना में कहा गया है कि आने वाले दिनों में इस वापसी अभियान के तहत संबंधित वाहन के मालिक को कंपनी के प्राधिकृत डीलर द्वारा संपर्क किया जायेगा। 

टोयोटा भी ग्लैंजा की लगभग 6,500 इकाइयों को वापस ले रही है

वहीं टोयोटा किर्लोस्कर मोटर (टीकेएम) भी दोषपूर्ण ईंधन पंपों को बदलने के लिए अपनी प्रीमियम हैचबैक ग्लैंजा की लगभग 6,500 इकाइयों को वापस ले रही है। टीकेएम ने एक बयान में कहा कि ग्राहकों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कंपनी स्वैच्छिक रूप से 2 अप्रैल, 2019 और 6 अक्टूबर, 2019 के बीच निर्मित ग्लैंजा के सभी वेरिएंट को रिकॉल कर रही है। TKM Glanza मारुति सुज़ुकी की बलेनो का एक रीबेडेड वर्जन है। मार्च 2018 में, टोयोटा और सुज़ुकी ने भारतीय बाजार में एक दूसरे को हाइब्रिड और अन्य वाहनों की आपूर्ति के लिए एक बुनियादी समझौता किया था।

लाइव हिन्दुस्तान टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है। यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं।
आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं? हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें।
  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें।
  • Web Title:Maruti recalled 135000 cars big problem in the fuel pump of Baleno and Wagon R